आईपीएल 2024 में दिखा ऋषभ पंत का पुराना अंदाज, टी20 वर्ल्ड कप में हुआ दावा मज़बूत

Date:

Share post:

ऋषभ पंत के लिए आईपीएल 2024 एक पुनर्जन्म से कम नहीं है। दिसंबर 2022 में सड़क दुर्घटना के बाद सभी ने यह उम्मीद छोड़ दी थी कि वह दोबारा क्रिकेट खेल भी पाएंगे या नहीं। आईपीएल के इस सीज़न से कुछ दिन पहले दिल्ली कैपिटल्स ने जब इस बात की पुष्टि की कि ऋषभ इस सीजन में खेलने वाले हैं, तभी से हर कोई उन्हे मैदान में देखने के लिए उत्सुक हो गया। सभी के मन में एक ही सवाल था कि ऋषभ पंत क्या उस अंदाज में दोबारा हमे बल्लेबाजी करते दिखेंगे जिस बेखौफ अंदाज के लिए वो जाने जाते थे ?

पंजाब के खिलाफ इस आईपीएल 2024 के अपने पहले मैच में ऋषभ पंत केवल 18 रन बनाए थे। दूसरे मुकाबले में राजस्थान के खिलाफ 26 गेंद में 28 रन। दिल्ली आईपीएल 2024 के अपने पहले दोनों मैच हार चुकी थी। तीसरे मुकाबले में चेन्नई से सामना था। यहां ऋषभ पंत का बल्ला चलता है। वह 32 गेंदों में शानदार 51 रन बनाते हैं। चार चौके और तीन छक्के जड़ते हुए। चेन्नई के सामने लगा कि पुराने वाले ऋषभ पंत हमे वापस दिखे। इससे अगले मैच में कोलकाता के सामने 25 गेंदों में धमाकेदार 55 रन बनाए जिसमें पांच छक्के शामिल थे। इन दोनों पारियों के बाद तो ये कहना गलत नहीं होगा कि पुराने वाले ऋषभ पंत वापस आ गए हैं।

टी20 वर्ल्ड कप नज़दीक है। इस वर्ल्ड कप में ऐसे में भारतीय टीम के विकेटकीपर कौन होंगे, अभी तक ये पक्का नहीं हुआ है। इससे पहले टी20 वर्ल्ड कप 2022 में भारतीय टीम ने दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत दोनों को मौका दिया था। रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़ ने कार्तिक को पंत पर तरजीह दी थी। आईपीएल 2024 में पंत अब तक 4 मैच खेले हैं और 38 की औसत से 158.33 के स्ट्राइक रेट से 152 रन बना चुके हैं। उन्होंने 12 चौके और नौ छक्के ठोक दिए हैं। 2022 में 14 मैच में उन्होंने 35 चौके और 16 छक्के लगाए थे। अगर पंत दमदार प्रदर्शन जारी रखते हैं तो उन्हें जून में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप 2024 में मौका मिल सकता है। टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम को मिडिल ऑर्डर में विकेटकीपर की तलाश है। यह तलाश ऋषभ पंत पूरी कर सकते हैं। अगर भारतीय टीम मैनेजमेंट ने ऋषभ पंत पर भरोसा जताया और वह उम्मीदों पर खरे उतरे तो पंत दोबारा भारतीय टीम के संकटमोचक साबित हो सकते है।

आईपीएल 2024 में दूसरे विकेटकीपरों की बात करे तो ऋषभ पंत इन सब से बहुत आगे हैं। केएल राहुल ने खेले तीन मैचों में 93 रन बनाए जिसमें स्ट्राइक रेट 138 का रहा। ईशान किशन ने भी निराश ही किया है। तीन मैचों में 160 के      स्ट्राइक रेट से केवल 50 रन बनाए है। संजू सैमसन ने जरूर प्रभावित किया है जिन्होंने तीन मैच में 109 रन बनाए हैं। जितेश शर्मा जिन्हे आईपीएल शुरू होने से पहले टी20 टीम में लगातार मौके मिले इन्होंने केवल 42 रन बनाए है तीन मैच में और स्ट्राइक रेट केवल 110 का है। इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मिले मौके में शानदार खेल दिखाने वाले ध्रुव जुरेल ने भी खेले तीन मैचों की दो पारियों में केवल 166 के स्ट्राइक रेट के साथ 40 रन ही बनाए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

अमेरिका-साउथ अफ्रीका के मैच के साथ ही शुरुआत होगी सुपर 8 के मुक़ाबलों की

पारखी आज से टी-20 वर्ल्ड कप-2024 में सुपर-8 के मुकाबलों का आगाज हो रहा है। इस राउंड का पहला मैच...

सुपर 8 के मैच से पहले अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज़ को मिलेगा अच्छा अभ्यास

पारखी अफगानिस्तान के खिलाफ मंगलवार को होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के आखिरी लीग मैच से पहले वेस्टइंडीज के...

श्रीलंका ने डेथ ओवरों की ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी से जीत लिया सबका दिल

पारखी श्रीलंका ने नीदरलैंड के खिलाफ़ मैच में शानदार प्रदर्शन किया और विश्व कप के अपने अंतिम मैच में 83...

गनीमत है कि फ्लोरिडा में एक मैच का रिज़ल्ट आ गया

पारखी नासा काउंटी की पिच से लेकर फ्लोरिडा के मैदान की दुर्दशा तक टी 20 वर्ल्ड कप में जैसा...