वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन जारी, नेपाल को हरा सेमीफाइनल में पहुंचा भारत

Date:

Share post:

भारत ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में नेपाल को हराकर लगातार पांचवीं जीत हासिल कर ली है। इस जीत के साथ भारत ने सेमीफाइनल में भी जगह बना ली है। जीत के लिए भारतीय टीम को इंतजार ज्यादा करना पड़ा है क्योंकि 27.5 में ओवर में 77 रनों पर सात विकेट खो चुकी नेपाल के पुछल्ले बल्लेबाजों ने गेंदबाजों को खूब छकाया और पूरे 50 ओवर बल्लेबाजी की। हालांकि, पूरे ओवर खेलने के बाद भी नेपाल मात्र 165 रन ही बना पाया।

टॉस जीतकर भारतीय कप्तान उदय सहारण ने बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ओपनर्स एक मजबूत शुरुआत नहीं दिला पाए। 26 के स्कोर पर आदर्श सिंह 21 रन बनाकर कैच आउट हो गए।  आदर्श के पवेलियन लौटने  के बाद प्रियांशु मोलिया को इस मैच में ऊपर भेजा गया लेकिन वह इस मौके का पूरा फायदा नहीं उठा पाए। 61 के स्कोर पर दाएं हाथ का यह बल्लेबाज रन आउट हो गया। प्रियांशु बस19 रन ही बना पाए। अगली ही गेंद पर अर्शिन कुलकर्णी भी वापस चलने बनें। भारत का स्कोर तब 14 ओवर में 62 रन पर तीन विकेट था। अब क्रीज पर दो नए बल्लेबाज थेः कप्तान उदय सहारण और सचिन दास। भारत उस समय दबाव में था। दोनों बल्लेबाजों ने जिम्मा संभाला और चौथे विकेट के लिए 215 रनों की साझेदारी कर डाली। इस दौरान दोनों युवाओं ने अपनी-अपनी सेंचुरी भी पूरी की। उदय ने 100 वहीं सचिन 116 रनों की पारी खेली। सचिन ने अपनी पारी की 101 गेंदों में 11 चौके और तीन छक्के जड़े जबकि कप्तान की 107 गेंदों की पारी नौ चौके शामिल थे। भारत के निर्धारित 50 ओवरों में 297 रन बनाए।

जवाब में नेपाल से उम्मीद की जा रही थी कि वह टक्कर तो जरूर देंगे। पारी की शुरुआत भी ठीक-ठाक रही। पहले विकेट के लिए उनके सलामी बल्लेबाजों ने 48 रन जोड़े। 65 के स्कोर पर दूसरा विकेट गिरा और इसके बाद तो विकेटों का पतझड़ लग गया। देखते ही देखते 22 से 27.5 ओवर के बीच अन्य पांच खिलाड़ी और वापस ड्रेसिंग रूम लौट गए। 77 रनों पर सात विकेट खो चुकी नेपाल के लिए मैच खत्म हो चुका थी। बस यह देखना था बचे तीन विकेट और कितनी देर औपचारिकता को रोक पाते हैं। भारत ने पिछले तीन मुकाबले 200 रनों के ज्यादा अंतर से जीते थे और यहां पर भी मौका था लेकिन नेपाल के पुछल्लें बल्लेबाजों ने अगले 23 ओवरों में भारतीय गेंदबाजों की नाक में दम कर लिया। आखिरकार मैच खत्म हुआ और नेपाल ने 50 ओवर खेलते हुए नौ विकेट पर 165 रन बनाएं।

भारतीय गेंदबाजों की फिर जमकर तूती बोली।एक बार फिर सौम्य पांडेय चमके। इस लेफ्ट ऑर्म स्पिनर ने 10 ओवर  में 29 रन देकर चार विकेट चटकाए। अर्शिन कुलकर्णी को दो जबकि राज, अराध्य शुक्ला, मुरुगन अभिषेक ने एक-एक विकेट हासिल किए। सचिन दास को उनकी सेंचुरी के लिए ‘प्लेयर ऑफ दि मैच’  दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

धर्मशाला टेस्ट के लिए जसप्रीत बुमराह की टीम इंडिया में वापसी

आयुष राज बीसीसीआई ने सात मार्च से शुरू होने वाले इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के अंतिम टेस्ट के...

वेलिंगटन में पहले टेस्ट के पहले दिन कैमरून ग्रीन ने जड़ी सेंचुरी

आयुष राज वेलिंगटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन कैमरून ग्रीन ने 155 गेंदों का...

न्यूज़ीलैंड ने पहले ही दिन चटका लिए ऑस्ट्रेलिया के नौ विकेट

~आशीष मिश्रा वेलिंगटन में खेले जा रहे न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट मैच का पहला दिन मेहमान...

धर्मशाला में यशस्वी विराट और गावसकर के रिकॉर्डों को छोड़ सकते हैं पीछे

यशस्वी जायसवाल छोटी उम्र का बड़ा खिलाड़ी बनने की ओर अग्रसर हैं। वह रांची में विराट के एक...