ज़िद के आगे जीत है

0
327
Surya Kumar Yadav
Surya Kumar Yadav

– Akash Mishra

तीसरे टी 20 मुकाबले में जहां पर सीरीज में भारतीय टीम ने वापसी किया है, टीम इंडिया ने ना सिर्फ मैच जीता बल्कि लगातार एक्सपेरिमेंट्स कर रही थी , भारतीय टीम एक अच्छा रिजल्ट देखने को मिला है, जो टीम मैनेजमेंट लगातार सूर्यकुमार यादव को एक ज़िद लेकर चल रही थी, और उस ज़िद का आखिरकार फायदा मिला और दो मैचों में बतौर ओपनर सूर्यकुमार यादव फेल हो रहे थे लेकिन तीसरे मैच में उन्होंने 44 गेंदों पर 76 रनो की धुआंधार पारी खेली और इसके बदौलत भारतीय टीम वेस्टइंडीज को बड़े अंतर से हराने में कामयाब रही. वहीं अगर हम हार्दिक पांड्या की बाद करें तो गेंदबाजी में सबसे अच्छा प्रदर्शन हार्दिक का था, पांड्या ने 4 ओवर में 16 रन देकर 1 विकेट भी लिया साथ ही वह 50 विकेट और 500 रन टी 20 में पूरा करने वाले भारत के पहले ऑलराउंडर बन चुके हैं
iTV GROUP से खास बातचीत में पूर्व क्रिकेटर सबा करीम ने कहा , भारतीय टीम ने काफी शानदार जीत दर्ज किया है बहुत ही कठिन रन चेज था और जिस आसानी से भारत ने इस रन चेज को पूरा किया है यह दर्शा रहा है की टीम में विश्वास धीरे धीरे बढ़ता ही जा रहा है.

सूर्य कुमार यादव को लेकर सबा करीम ने कहा की सूर्या ने विकेट को समझकर बल्लेबाजी की , तब उन्होंने तय किया की कौन सा शॉर्ट्स आप खेल सकते हैं , किस तरह से गेंदबाज को टारगेट करना है, और उनके क्षमता पर कभी संदेह नही हुआ और उनकी जगह पक्की है, और मुझे अभी भी यहीं लगता है की नंबर 4 एक ऐसी पोजिशन है खासकर के टॉप क्वालिटी बॉलिंग अटैक के सामने और आईसीसी इवेंट में नंबर 4 बहुत महत्वपूर्ण बैटिंग पोजिशन होती है और आपको इस प्रकार का खिलाड़ी चाहिए जो पेस बॉलर के विरुद्ध शानदार तरीके से रन बनाए.


सबा ने आगे कहा की चाहे आप सुर्यकुमार यादव को ओपन कराएं या ऋषभ पंत को ओपन कराएं जिसको नंबर 3 खिलाएं या 4 खिलाएं लेकिन एक बार आप सुनिश्चित कर लें ताकि फिर आप उसी अंदाज में आगे बढ़े, क्योंकि थोड़ा बहुत आपको समय चाहिए होता है किसी भी बल्लेबाज, किसी भी पोजिशन में बल्लेबाजी करने के लिए क्योंकि समय ज्यादा नही है भारत के पास ,अभी एशिया कप आने वाला है उसके बाद वर्ल्ड कप शुरू हो जाएगा.

वेस्टइंडीज टीम को लेकर सबा करीम ने कहा कि वेस्टइंडीज क्रिकेटर्स की जो युवा पीढ़ी है वह अब तैयार हो रही है धीरे धीरे और अभी भी समय लगेगा पर मजबूत टीम जो भारत की है उसके विरुद्ध खेलना इतना आसान नही होता है और यह अच्छी बात है की वेस्टइंडीज ने दूसरा मुकाबला जीता था तो कम से कम वह जोश उनके टीम में नजर आ रहा है.


लागातार जो 2 मैचों में एक्सपेरिमेंट्स का दौर चला उसमे बहुत ज्यादा सवाल भी खड़े हुए लेकिन अंत में रोहित शर्मा के इस एक्सपेरिमेंट्स ने इस सवाल का जवाब दे दिया और एक बात तो बिलकुल साफ नजर आई की ज़िद के आगे जीत है और यह जीत मिली है सूर्य कुमार यादव के बल्ले से जिनको ओपन कराए जाने पर कई तरह के सवाल थे.