अगले टेस्ट मैच में किस विकेटकीपर को मिलेगी प्लेइंग इलेवन ?

Date:

Share post:

आशीष मिश्रा

राजकोट में होने वाले तीसरे क्रिकेट टेस्ट में टीम इंडिया का विकेटकीपर कौन होगा, इस पर इन दिनों बहस छिड़ी हुई है। इस वक्त टीम इंडिया के विकेटकीपिंग टीम के लिए चिंता का सबब बनी हुई है क्योंकि दोनों मैचों में श्रीकर भरत का प्रदर्शन खराब रहा। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि तीसरे टेस्ट में क्या श्रीकर भरत ही विकेटकीपिंग करेंगे या ध्रुव जुरेल को मौका मिलेगा? तीसरा क्रिकेट टेस्ट राजकोट में 15 फरवरी से शुरू हो रहा है।

ऋषभ पंत जब से चोटिल हुए हैं, टीम इंडिया की विकेटकीपर की तलाश खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। केएल राहुल के विकेटकीपिंग न करने और ईशान किशन के मौजूद न होने से इंग्लैंड के खिलाफ टीम में केएस भरत और ध्रुव जुरेल
को 15 खिलाड़ियों की टीम में चुना गया। दोनों मैचों में श्रीकर भरत का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। वह ना तो बल्ले से कुछ कमाल कर पाए और न ही विकेट के पीछे उनमें डीआरएस पर कप्तान को अपनी राय देने की क्षमता दिखी।

पहले टेस्ट की दोनों पारियों को मिलाकर उन्होंने 69 रन बनाए थे और दूसरे टेस्ट में उनका प्रदर्शन बहुत ही खराब रहा। वह सिर्फ 23 रन बना सके। उन्होंने अभी तक भारत के लिए कुल सात टेस्ट मैच खेले है और सिर्फ 221 रन बनाए है। उनका सर्वाधिक स्कोर 44 रन रहा है। यानी केवल दो बार वह 40 का आंकड़ा पार कर पाए हैं लेकिन एक भी हाफ सेंचुरी उनके नाम नहीं है। उनके इस खराब प्रदर्शन के कारण वह टीम से अंदर बाहर होते रहे है।

टीम तीसरे मैच में श्रीकर भरत को बाहर कर ध्रुव जुरेल को मौका दे सकती है। वह बेहतरीन विकेटकीपर होने के साथ कमाल के बल्लेबाज भी हैं। घरेलू क्रिकेट में उनका प्रदर्शन अच्छा रहा है। उन्होंने 15 मैचों में 790 रन बनाए है और उनका बेस्ट स्कोर 249 रन है, जो उन्होंने नगालैंड के खिलाफ दिसम्बर 2022 में बनाए थे। पहले दोनों मैचों में भरत के अनुभवी होने के कारण उन्हें मौका नहीं मिला लेकिन श्रीकर भरत के खराब प्रदर्शन ने उनकी टीम में आने की उम्मीद बढ़ा दी हैं।

ईशान किशन लगातार अच्छे प्रदर्शन के बाद भी लंबे समय से टीम से बाहर हैं। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट पिछले साल जुलाई में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था और अपना आखिरी मैच नवंबर 2023 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। टीम से उनके बाहर होने की वजह अभी तक साफ नहीं हैं। टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने उन्हें रणजी ट्रॉफी में खेलने की सलाह दी थी लेकिन वह रणजी में खेलते नहीं नजर आए। अब सवाल यह उठता है कि क्या बाकी के बचे हुए मैचों में उन्हें टीम में जगह मिल पाएगी या उनका टीम में आने का इंतजार और लंबा होगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

रांची टेस्ट में रविचंद्रन अश्विन ने बनाया बड़ा कीर्तिमान

आयुष राज रांची टेस्ट में रविचंद्रन अश्विन ने इंग्लैंड टीम के खिलाफ अपना 100वां विकेट हासिल किया। इन्होंने सौवें...

~आशीष मिश्रा  WPL 2024 का आगाज आज पिछले सीजन की विजेता मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स की भिड़ंत से...

चौथे टेस्ट में चौथे खिलाड़ी ने किया डेब्यू, बंगाल के तेज गेंदबाज आकाश दीप को मिला हेड कोच राहुल के हाथों से डेब्यू कैप

भारत और इंग्लैंड के बीच चौथे टेस्ट में चौथा खिलाड़ी डेब्यू कर चुका है। बंगाल के तेज गेंदबाज...

कैसी है रांची की पिच, क्या भारत अतिरिक्त स्पिनर को शामिल करेगा

रांची टेस्ट से पहले भारत और इंग्लैंड खेमे में ये हलचल है कि आखिरकार यहां की पिच कैसी...