आईसीसी ने 2023 वर्ल्ड कप फाइनल और सेमीफाइनल की पिचों को दिया रेटिंग बताया ‘औसत’ ..

Date:

Share post:

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुए के फाइनल मैच की पिच की रेटिंग आई है। आईसीसी ने वर्ल्ड कप फाइनल के लिए तैयार की गई पिच को ‘एवरेज’ रेटिंग दी है। वर्ल्ड कप फाइनल के अलावा कोलकाता के ईडन गार्डन्स में ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के बीच हुए दूसरे सेमीफाइनल की पिच को भी एवरेज रेटिंग दी गई है। आईसीसी ने फाइनल और सेमीफाइनल के अलावा भारत के 5 मैचों की पिच को औसत करार दिया है। भारतीय टीम ने टूर्नामेंट में कुल 11 मैच खेले थे। वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में भारत का सामना न्यूजीलैंड से हुआ था। वानखेड़े में खेले गए इस मैच की पिच को लेकर काफी बवाल हुआ था। इस मैच की पिच को बेहतर रेटिंग दी गई है।

फाइनल की पिच को रेटिंग आईसीसी के मैच रेफरी ने दी। दूसरे सेमीफाइनल के विकेट की रेटिंग भारत के पूर्व तेज गेंदबाज जवागल श्रीनाथ ने दी। अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वर्ल्ड कप का फाइनल मुकाबला 19 नवंबर को खेला गया था। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को छह विकेट से हराकर छठी बार वर्ल्ड कप जीती थी। इस मैच में टॉस ऑस्ट्रेलिया ने जीता और धीमी प‍िच पर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। पहले खेलने उतरी टीम इंडिया ने 50 ओवरों में 240 रन ही बना पाई। इसके बाद कंगारू टीम के सलामी बल्लेबाज ट्रेविस हेड ने 120 गेंदों में 137 रनों की मदद से केवल 43 ओवरों में लक्ष्य हासिल कर लिया।

वर्ल्ड कप फाइनल के अलावा भारत और साउथ अफ्रीका का मुकाबला जो मुंबई के वानखेड़े में खेला गया था, इंग्लैंड के साथ मैच जो लखनऊ में खेला गया था, पाकिस्तान के साथ अहमदाबाद में और चेन्नई में ऑस्ट्रेलिया के साथ खेले गए मैचों को औसत रेटिंग दी है। भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड कप सेमीफाइनल के दौरान वानखेड़े की पिच विवादों में थी। मेजबान टीम भारत ने उसे आखिरी मिनट में बदलवा दिया था। उसको ‘अच्छी’ रेटिंग मिली है। पुरानी पिच पर खेले गए इस मैच में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 397 रन बनाए, जवाब में कीवी टीम ने 48.5 ओवर में 327 रन बनाए।

वर्ल्ड कप के दौरान भारतीय टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ ने ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के खिलाफ भारत के मैचों के लिए इस्तेमाल की गई पिचों की रेटिंग की आलोचना की थी। उन्होंने कहा था कि रन बनने के आधार पर पिच को रेटिंग नहीं दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा था कि अगर चौके-छक्के ही देखने हैं तो गेंदबाज यहां क्यों हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

धर्मशाला टेस्ट के लिए जसप्रीत बुमराह की टीम इंडिया में वापसी

आयुष राज बीसीसीआई ने सात मार्च से शुरू होने वाले इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के अंतिम टेस्ट के...

वेलिंगटन में पहले टेस्ट के पहले दिन कैमरून ग्रीन ने जड़ी सेंचुरी

आयुष राज वेलिंगटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन कैमरून ग्रीन ने 155 गेंदों का...

न्यूज़ीलैंड ने पहले ही दिन चटका लिए ऑस्ट्रेलिया के नौ विकेट

~आशीष मिश्रा वेलिंगटन में खेले जा रहे न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट मैच का पहला दिन मेहमान...

धर्मशाला में यशस्वी विराट और गावसकर के रिकॉर्डों को छोड़ सकते हैं पीछे

यशस्वी जायसवाल छोटी उम्र का बड़ा खिलाड़ी बनने की ओर अग्रसर हैं। वह रांची में विराट के एक...