टी-20 के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के लिए सूर्या के सामने इन तीन की चुनौती

Date:

Share post:

आइसीसी ने  2023 टी-20 प्लेयर ऑफ दि इयर के लिए चार नामों का एलान कर दिया है। ये वह खिलाड़ी हैं जिन्होंने 2023 में बल्ले या फिर गेंद से खूब धमाल मचाया है। इस लिस्ट में एक भारतीय स्टार बल्लेबाज, ज़िम्बाब्वे से एक आलराउंडर, न्यूज़ीलैंड से एक खब्बू बल्लेबाज और सभी भी चौंकाते हुए  युगांडा टीम से एक भारतीय मूल का खिलाडी भी शामिल है।

सूर्यकुमार यादव

सूर्यकुमार यादव आइसीसी की टी-20 प्लेयर आफ  दि इयर की रेस में हैं।  पिछले साल सूर्यकुमार यादव का बल्ला टी-20 फॉर्मेट में खूब बोला। जहां उन्होंने 17 पारियों में 48.86 की औसत और 155.96 की स्ट्राइक रेट के साथ 733 रन बनाएं हैं। मुबईं इंडियंस के इस बल्लेबाज के लिए वनडे क्रिकेट बेहद  निराशाजनक गुजरा है। खासकर वर्ल्ड  कप फाइनल में खेली गई पारी के लिए उनको आलोचना का सामना करना पड़ा था लेकिन वनडे में खराब फार्म का असर उन्होंने अपने पसंदीदा टी-20 क्रिकेट पर नहीं पड़ने दिया और वर्ल्ड कप के तुरंत बाद पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 42 गेंदों पर 80 और फिर वांडर्स में साउथ अफ्रीका के सामने ताबड़तोड़ सेंचुरी जड़ी। इस साल जून टी-20 वर्ल्ड कप को देखते हुए भारत के लिए  सूर्यकुमार यादव फॉर्म बहुत जरूरी है।

सिकंदर रज़ा

ज़िम्बाब्वे के इस  आलराउंडर ने पिछले कुछ वर्षों में अपने हरफनमौला खेल  से वैश्विक स्तर पर खूब वाह-वाही  बटोरी है। सिकंदर रज़ा ज़िम्बाब्वे के सबसे बडे़ मैच विनर बन के उभरे हैं। 2023 में 11 पारियों में 150 के स्ट्राइक रेट और 51.50 की औसत से रज़ा ने 515 रन बनाएं हैं और इस दौरान 17 विकेट भी हासिल किए हैं। रज़ा दुर्भाग्यशाली रहे क्योंकि उनके   बेहतरीन प्रदर्शन के बावजूद ज़िम्बाब्वे 2024 टी-20 वर्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाया। रज़ा ने  वर्ल्ड कप क्वालिफायर में तीन हाफसेंचुरी भी जड़ी थी।

अल्पेश रामजानी

युगांडा के लिए 2023 एक सुनहरी याद बन चुका है। टी-20 वर्ल्ड कप के अफ्रीकी क्वालीफायर में युगांडा ने जिम्बांम्बे जैसी टीम को पछाड़ वर्ल्ड कप 2024 के लिए अपनी जगह पक्की की। युगांडा की इस विशेष उपलब्धि में उनके लेफ्ट आर्म स्पिनर अल्पेश  रामजानी का बहुत बड़ा योगदान रहा है। वह विपक्षी बल्लेबाजों के लिए एक पहेली साबित हुए हैं। अल्पेश ने पिछले साल  30 मैचों में 4 की इकॉनमी के साथ 55 विकेट चटकाए हैं। बल्ले से भी अल्पेश ने अपनी काबिलियत दिखाई है।   ज़िम्बाब्वे के खिलाफ वर्ल्ड कप क्वालीफायर के  निर्णायक मैच में  इस खिलाड़ी ने 40 रनों की एक महत्त्वपूर्ण पारी खेली थी। रामजानी मूलरूप से भारतीय मूल के हैं । इनका जन्म मुंबई में हुआ था।

मार्क चैपमैन

बाएं हाथ के इस कीवी युवा बल्लेबाज ने अपनी आकर्षक बैटिंग शैली से सभी का ध्यान खींचा है। नंबर चार और पांच पर आकर चैपमैन तूफानी अंदाज में बैटिंग करते हैं। 2023 में  चैपमैन ने 19 पारियों में 141.87 की स्ट्राइक रेट से 576 रन बनाए हैं। चैपमैन के लिए  पिछले साल की शुरुआत जरूर निराशाजनक रही थी लेकिन इसके बाद वापसी करते हुए  उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ हुई सीरीज में पांच मैच खेलते हुए 290 रन बनाए थे और प्लेयर ऑफ दि सीरीज भी बने थे। इस सीरीज के आखिरी मैच में इस बल्लेबाज ने सेंचुरी भी जड़ी थी।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

दूसरे दिन भारतीय बल्लेबाजी बिखरी, इंग्लैंड के पास 134 रन की बढ़त मौजूद

आशीष मिश्रा चौथे टेस्ट में भारतीय टीम मुश्किलों में फंसी नजर आ रही है। दूसरे दिन का खेल पूरी...

डेविड वॉर्नर और डेवोन कॉन्वे हुए इंजर्ड, आईपीएल 2024 से हो सकते है बाहर

आईपीएल 2024 की शुरुआत में अब एक महीने से भी कम का वक़्त बाकी है। लेकिन दो टीम...

मुंबई टीम को मुशीर खान ने अपने डबल सेंचुरी से बचाया..

18 साल के युवा मुशीर खान ने मुंबई की रणजी टीम से खेलते हुए बड़ौदा के खिलाफ क्वाटर...

बीसीसीआई के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से हटाए जा सकते है ईशान किशन और श्रेयश अय्यर

ईशान किशन और श्रेयश अय्यर के घरेलू क्रिकेट टीम में रणजी ट्रॉफी खेलने से मना करने के कारण...