तिलक वर्मा की एक और शानदार पारी, हिमांशु राणा और एन जगदीशन की नदाबल सेंचुरी

Date:

Share post:

हैदराबाद टीम की कप्तानी कर रहे भारतीय बल्लेबाज तिलक वर्मा इस रणजी सीजन में शानदार फॉर्म में है। उन्होंने इस सीजन में एक बार फिर से सिक्किम के खिलाफ सेंचुरी जड़ी है। तिलक वर्मा के अलावा हरियाणा के बल्लेबाज हिमांशु राणा ने मणिपुर के खिलाफ नाबाद डबल सेंचुरी लगाया जबकि तामिलनाडु के ओपनर बल्लेबाज एन जगदीशन ने भी रेलवे के खिलाफ शानदार और ताबड़तोड़ दबले सेंचुरी जड़ा।

तिलक वर्मा की लगातार दूसरी सेंचुरी
अफगानिस्तान के खिलाफ पहला मुकाबला खेलने के बाद तिलक वर्मा बाद के दो मैच नहीं खेल पाए थे। इस सीरीज के खत्म होने के बाद तिलक वर्मा एक बार फिर से रणजी खेलने आ गए और फिर आते ही सिक्किम के खिलाफ 111 गेंदों का सामना करते हुए चार छक्के और आठ चौकों की मदद से नाबाद 103 रन की पारी खेली। इनके अलावा ओपनर बल्लेबाज तन्मय अग्रवाल ने 125 गेंदों पर 137 रन बनाए और इन दोनों की सेंचुरी के दम पर हैदराबाद ने पहली पारी में चार विकेट पर 463 रन बनाकर पारी की घोषणा कर दी। इस सीजन में तिलक वर्मा ने इससे पहले नागालैंड के खिलाफ नाबाद 100 रन की पारी खेली थी। सिक्किम की पहली पारी 79 और दूसरी पारी 186पर सिमटी और हैदराबाद यह मुकाबला पारी और 198 रनों से जीतने में सफल रहा।

हिमांशु राणा बने हरियाणा के हीरो
हरियाणा के बल्लेबाज हिमांशु राणा ने मणिपुर के खिलाफ 313 गेंदों का सामना करते हुए 33 चौकों की मदद से नाबाद 250 रन की पारी खेली और उनकी इस पारी के दम पर हरियाणा ने पहली पारी में तीन विकेट पर 508 रन बनाकर पारी की घोषणा कर दी। हिमांशु राणा का यह पहला फर्स्ट क्लास में पहली डबल सेंचुरी थी, जबकि इस दौरान 2500 रन भी पूरे किए। हरियाणा के लिए निशांत सिंधू ने भी 18 चौकों की मदद से 119 रन की पारी खेली। मणिपुर पहली पारी 77 और दूसरी 93 रनों पर ऑल आउट हुई और हरियाणा मैच पारी और 338 रनों के बड़े अंतर से जीतने में कामयाब रहा।

एन जगदीशन का रहा जलवा
इस सीजन में तामिलनाडु के बल्लेबाज एन जगदीशन ने भी पहली पारी में रेलवे के खिलाफ डबल सेंचुरी लगाया ये अंत तक आउट नहीं हुए और 402 गेंदों में 245 रन बनाए जिसमे 25 चौके और चार छक्के शामिल थे। इस सीज़न में विजय हजारे ट्रॉफी के खराब प्रदर्शन के बाद, उन्हें रणजी ट्रॉफी में निचले क्रम में बल्लेबाजी करने भेजा जाने लगा था। गुजरात के खिलाफ नंबर सात और आठ पर बल्लेबाजी की थी। लेकिन इस मैच में ओपनिंग करते हुए अपने फर्स्ट-क्लास करियर की पहली डबल सेंचुरी जड़ी। तामिलनाडु के किसी भी विकेटकीपर का एक पारी में यह सबसे अधिक स्कोर है। दिनेश कार्तिक ने इससे पहले 2008-09 में उत्तर प्रदेश के खिलाफ 213 रन बनाए थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

दूसरे दिन भारतीय बल्लेबाजी बिखरी, इंग्लैंड के पास 134 रन की बढ़त मौजूद

आशीष मिश्रा चौथे टेस्ट में भारतीय टीम मुश्किलों में फंसी नजर आ रही है। दूसरे दिन का खेल पूरी...

डेविड वॉर्नर और डेवोन कॉन्वे हुए इंजर्ड, आईपीएल 2024 से हो सकते है बाहर

आईपीएल 2024 की शुरुआत में अब एक महीने से भी कम का वक़्त बाकी है। लेकिन दो टीम...

मुंबई टीम को मुशीर खान ने अपने डबल सेंचुरी से बचाया..

18 साल के युवा मुशीर खान ने मुंबई की रणजी टीम से खेलते हुए बड़ौदा के खिलाफ क्वाटर...

बीसीसीआई के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से हटाए जा सकते है ईशान किशन और श्रेयश अय्यर

ईशान किशन और श्रेयश अय्यर के घरेलू क्रिकेट टीम में रणजी ट्रॉफी खेलने से मना करने के कारण...