रोहित और द्रविड़ से हुई चूक, कंडीशंस के हिसाब से नहीं चुन पाए टीम

Date:

Share post:

किसी भी मैच की सफलता में टीम मैनेजमेंट की नीतियों का बड़ा हाथ होता है।
मगर वेस्टइंडीज़ दौरे के पहले टेस्ट में लगता है कि भारतीय टीम मैनेजमेंट
कंडीशंस का सही अंदाज़ा नहीं लगा सका। सबसे बड़ा फैसला तीन तेज़ गेंदबाज़
और दो स्पिनरों का खिलाना था। यानी एक अतिरिक्त तेज़ गेंदबाज़ खिलाने के
फैसले का किसी भी लिहाज से बचाव नहीं किया जा सकता।

डोमिनिका में खेले जा रहे पहले क्रिकेट टेस्ट में भारतीय गेंदबाज़ों ने
कुल 64.3 ओवर की गेंदबाज़ी की जिसमें स्पिनरों ने 38.3 ओवर की गेंदबाज़ी
की। ज़ाहिर है विकेट पहले ही दिन स्पिन ले रहा था। वैसे भी विंडसर पार्क
में जो पांच टेस्ट अब तक खेले गए हैं, उनमें टॉप पांच विकेट चटकाने वाले
गेंदबाज़ों में से चार स्पिनर ही हैं। इस पारी में भी दस में से आठ विकेट
स्पिनरों के खाते में गए। टॉस के समय यह विकेट सूखी दिखाई दे रही थी।
ज़ाहिर है कि राहुल द्रविड़ और रोहित शर्मा विकेट को सही से पढ़ नहीं
पाए।

विकेट के स्पिन फ्रेंडली होने का आलम यह था कि केवल आठ ओवर के बाद ही
रोहित शर्मा ने अश्विन को गेंद थमाई और अश्विन ने पहले दोनों विकेट
चटकाकर कप्तान के भरोसे को सही साबित किया। लंच तक तो मामूली टर्न मिल
रहा था लेकिन लंच के बाद खासकर अश्विन ने सात डिग्री तक गेंद को घुमाया।
दूसरे छोर से जडेजा ने भी ब्रेथवेट सहित कुल तीन खिलाड़ियों को आउट किया।
यानी दस में से आठ विकेट जहां स्पिनरों को पहले दिन मिल रहे हों, वहां
तीन तेज़ गेंदबाज़ों को खिलाना और दो स्पिनर खिलाना वाकई एक अधूरी सोच को
दर्शाता है। यह हालत भी तब है जबकि अक्षर पटेल का विकल्प भी मौजूद था।
ऐसी स्थिति में शार्दुल की जगह अगर अक्षर टीम में होते तो यह मौजूदा
कंडीशंस में एक आदर्श सोच होती। पहले दिन शार्दुल ठाकुर और जयदेव उनादकट
से केवल सात-साच ओवर की गेंदबाज़ी कराई गई। यह इस मैच की कंडीशंस को
बताने के लिए काफी है।

वैसे कंडीशंस को सही तरीके से पढ़ने में वेस्टइंडीज़ के कप्तान ब्रेथवेट
भी पीछे रहे। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला उनका बहुत
अजीबोगरीब था और वह भी तब जबकि पहले दिन डोमिनिका के विकेट पर गेंदबाज़ों
को मदद मिलती रही हो। पिच के ड्राई कंडीशंस का भी दोनों कप्तान अंदाज़ा
नहीं लगा पाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

भारत में लाल गेंद से महिला घरेलू क्रिकेट फिर से शुरू किया जाएगा

आयुष राज महिलाओं के लिए रेड बॉल क्रिकेट छह साल बाद भारत के घरेलू कैलेंडर में वापसी करेगा। बीसीसीआई ने...

पीएसएल के मैच से पहले कराची किंग्स के 13 खिलाड़ी पड़े थे एक साथ बीमार

आयुष राज पाकिस्तान सुपर लीग में 29 फरवरी को कराची किंग्स और क्वेटा ग्लेडिएटर्स के बीच मैच से पहले एक...

पहले टेस्ट का दूसरा दिन रहा ऑस्ट्रेलिया के नाम..कुल बढ़त हुई 217 रनों की

न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट का दूसरा दिन मेहमानों के नाम रहा। दिन का खेल खत्म...

धर्मशाला टेस्ट के लिए जसप्रीत बुमराह की टीम इंडिया में वापसी

आयुष राज बीसीसीआई ने सात मार्च से शुरू होने वाले इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के अंतिम टेस्ट के...