वर्ल्ड कप के लिए बहुत बैलेंस नज़र नहीं आ रही ऑस्ट्रेलिया की टीम

Date:

Share post:

 जो टीम वर्ल्ड कप का खिताब पांच बार जीत चुकी हो, दो बार रनर्स अप रही
हो, जिसने हाल में वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का खिताब भी अपने नाम किया
हो, ऐसी टीम पर नज़रें टिकना स्वाभाविक है। हम बात ऑस्ट्रेलिया टीम की कर
रहे हैं। एक ऐसी टीम जिसने दो ऐसे युवा खिलाड़ियों को टीम में जगह दी है,
जो पहले कभी ऑस्ट्रेलिया के लिए वनडे मैच नहीं खेले हैं और टीम में
ऑलराउंडरों को ज़्यादा महत्व दिया है लेकिन दो टिकाऊ बल्लेबाज़ मार्नस
लैबुशेन और उस्मान ख्वाजा को टीम में जगह नहीं दी गई है।

एरोन हार्डी और तनवीर सांघा टीम के युवा खिलाड़ी हैं। हार्डी मध्यम गति
के तेज़ गेंदबाज़ होने के अलावा बल्लेबाज़ी भी करते हैं जहां उनका फर्स्ट
क्लास क्रिकेट में औसत 42 रन प्रति पारी का रहा है। वहीं तनवीर सांघा लेग
स्पिनर हैं। पिछले पांच मैचों में उनके नाम सात विकेट हैं। हालांकि तनवीर
इंजरी की वजह से बिग बैश लीग में नहीं खेले। पिछले साल पीठ में स्ट्रेस
फ्रेक्टर की वजह से काफी समय वह बाहर रहे। मगर वापसी के बाद उन्होंने
खासकर ऑस्ट्रेलिया ए की ओर से बढ़िया प्रदर्शन किया। टीम में हार्डी सहित
कैमरून ग्रीन, मरकस स्टायनिस और ग्लेन मैक्सवेल के रूप में ऑलराउंडर हैं।
मिचेल मार्श भी कई मौकों पर गेंदबाज़ी में असरदार साबित हुए हैं। वैसे
भारत के खिलाफ वह शानदार बल्लेबाज़ी करके वनडे में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़
साबित हुए थे। स्टायनिस विशुद्ध रूप से टी-20 की मानसिकता से खेलते हैं।
उनको चुनना और उस्मान ख्वाजा जैसे इनफॉर्म खिलाड़ी को न चुनना समझ से परे
हैं। हालांकि यहां यह तर्क दिया जा सकता है कि वह काफी धीमा खेलते हैं
लेकिन यह सच है कि वह स्पिनर्स को इस टीम में सबसे बढिया तरीके से खेलते
हैं। अगर इन्हें बल्लेबाज़ी की रफ्तार को थोड़ा तेज़ करने की सलाह दी जाए
तो वह टीम के लिए ट्रम्प कार्ड साबित हो सकते हैं।

लेफ्ट आर्म स्पिनर एश्टन एगर, लेग स्पिनर एडम ज़ैम्पा और तनवीर सांघा के
रूप में टीम में तीन स्पिनर हैं जबकि मैक्सवेल ऑफ स्पिन गेंदबाज़ी के लिए
चौथे विकल्प हैं। भारतीय पिचों के अनुकूल ज़ैम्पा ही एकमात्र ऐसे स्पिनर
हैं जिन पर कप्तान का भरोसा है।

टीम इस प्रकार है –  (कप्तान), शॉन एबॉट, एश्टन एगर, एलेक्स कैरी, नाथन
एलिस, कैमरून ग्रीन, एरॉन हार्डी, जोश हेजलवुड, ट्रेविस हेड, जोश
इंग्लिस, मिचेल मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, तनवीर सांघा, स्टीव स्मिथ, मिचेल
स्टार्क , मार्कस स्टायनिस, डेविड वार्नर, एडम ज़ैम्पा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

भारत में लाल गेंद से महिला घरेलू क्रिकेट फिर से शुरू किया जाएगा

आयुष राज महिलाओं के लिए रेड बॉल क्रिकेट छह साल बाद भारत के घरेलू कैलेंडर में वापसी करेगा। बीसीसीआई ने...

पीएसएल के मैच से पहले कराची किंग्स के 13 खिलाड़ी पड़े थे एक साथ बीमार

आयुष राज पाकिस्तान सुपर लीग में 29 फरवरी को कराची किंग्स और क्वेटा ग्लेडिएटर्स के बीच मैच से पहले एक...

पहले टेस्ट का दूसरा दिन रहा ऑस्ट्रेलिया के नाम..कुल बढ़त हुई 217 रनों की

न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट का दूसरा दिन मेहमानों के नाम रहा। दिन का खेल खत्म...

धर्मशाला टेस्ट के लिए जसप्रीत बुमराह की टीम इंडिया में वापसी

आयुष राज बीसीसीआई ने सात मार्च से शुरू होने वाले इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के अंतिम टेस्ट के...