साउद शकील ने जगाई पाकिस्तान को मध्य क्रम में बड़ी उम्मीद

Date:

Share post:

जिस बल्लेबाज़ ने पिछले दिनों टेस्ट क्रिकेट में धाकड़ आगाज़ किया हो और सिर्फ सात टेस्ट में एक सेंचुरी, एक डबल सेंचुरी और छह हाफ सेंचुरी लगाकर पुराने कई कीर्तिमान ध्वस्त कर दिए हों। उस खिलाड़ी को पाकिस्तान टीम मैनेजमेंट का वनडे में उतारने का दांव मास्टर स्ट्रोक साबित होता दिख रहा है। ठीक उसी तरह जैसे नसीम शाह को टेस्ट के साथ-साथ व्हाइट बॉल क्रिकेट में उतारने का दांव भी सोलह आने सही बैठा था।

पहले तो टीम मैनेजमेंट यह तय नहीं कर पा रहा था कि साउद शकील को किसकी जगह प्लेइंग इलेवन दी जाए। क्या आउट ऑफ फॉर्म फख्र ज़मां की जगह या मध्य क्रम के बल्लेबाज़ आगा सलमान की जगह। फख्र ज़मां काफी समय से फॉर्म में नहीं हैं। मगर यहां साउद शकील को प्रैक्टिस मैच में जब आजमाया गया तो उन्होंने अपने अंदर छिपी तमाम सम्भावनाओं को उजागर कर दिया।

साउद शकील ने दिखा दिया कि बेशक वह टेस्ट क्रिकेट में टेम्परामेंट का खूब परिचय देते हों लेकिन वह रन गति को तेज़ी से आगे बढ़ाना भी जानते हैं। 141.50 के स्ट्राइकरेट से 75 रन की पारी को जिसने भी देखा, वह ठगा से रह गया। उसे यकीन नहीं हो पा रहा था कि इस खिलाड़ी में अगर इतना हुनर है तो उन्हें आखिर स्कीम ऑफ थिंग्स में पहले क्यों नहीं रखा गया। हालांकि शकील पहले भी वनडे खेल चुके हैं लेकिन तब उनका वैसा हुनर देखने को नहीं मिला, जो न्यूज़ीलैंड के खिलाफ वॉर्मअप मैच में देखने को मिला।

इस वॉर्मअप मैच में साउद शकील ने सूर्यकुमार यादव के अंदाज़ में मिचेल पर स्कूप भी किया और एक्स्ट्रा कवर के ऊपर से छक्का भी लगाया। जो बल्लेबाज़ टेस्ट क्रिकेट में लाफ्टेड शॉट का परहेज करता रहा हो, वह लांग ऑफ के ऊपर से दो और मिडविकेट के ऊपर से भी ऐसे ही छक्के लगाए तो आप उनमें छिपे इस टैलंट का अंदाज़ा लगा सकते हैं। फिलिप्स पर उन्होंने रिवर्स स्वीप भी खेला और खासकर नीशम पर उन्होंने कई शानदार बाउंड्रियां लगाईं। जिस आगा सलमान के साथ उनका कॉम्पिटिशन है, उन्हीं के साथ उन्होंने 81 रन जोड़ दिए।

निश्चय ही टीम के कप्तान बाबर आज़म को साउद शकील की बल्लेबाज़ी से बड़ी तसल्ली मिली होगी क्योंकि उनके ज़रिए मध्य क्रम में पाकिस्तान की उम्मीद जगी है। यदि पाकिस्तान दो या तीन विकेट जल्द खो देता है तो उस वक्त साउद शकील का रोल अलग होगा और अगर ऊपर से टीम के लिए खूब रन बन रहे हों तो यह खिलाड़ी तेज़ बल्लेबाज़ी करके टीम को विशाल स्कोर तक ले जाने में भी मदद कर सकता है। वास्तव में शकील का मध्य क्रम में चलना बाकी टीमों के लिए खतरे की घंटी है क्योंकि रिज़वान का नम्बर चार पर और साउद शकील का नम्बर पांच पर आना टीम को मज़बूती देगा। बाकी का काम इफ्तिखार, शादाब और नवाज़ बखूबी कर सकते हैं। अगर टीम संरचना में आगा सलमान भी फिट हो जाते हैं तो फिर यही मध्य क्रम पाकिस्तान टीम की और भी बड़ी ताक़त बन सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

CSK और LSG मैच में निगाहें केएल राहुल, रवि बिश्नोई और शिवम दूबे पर

आयुष राज टी20 विश्व कप की भारतीय टीम की घोषणा होने में बहुत कम समय बचा है। ऐसे में...

क्या LSG एक बार फिर CSK पर भारी पड़ेगी ?

आयुष राज चेन्नई सुपर किंग्स और लखनऊ सुपर जायंट्स की टीमें मंगलवार 23 अप्रैल को चेन्नई के चिदंबरम स्टेडियम...

खेल जगत की दस सबसे बड़ी खबरें ( 22 अप्रैल )

आशीष मिश्रा आईपीएल का 39 वां मैच चेन्नई सुपर किंग्स और लखनऊ सुपर जाएंट्स की बीच मंगलवार को चेन्नई...

वह नो बॉल ही थी, विराट पर अम्पायर से भिड़ने के बावजूद नहीं लगा जुर्माना

विराट कोहली अगर अपने रनों की वजह से चर्चा में रहें तो बात समझ में आती है लेकिन...