IPL में Ashwin की गेंदबाज़ी से Sehwag हैं नाराज़, सुना डाली खरी-खोटी

Date:

Share post:

– श्रेय आर्य 31 May :

कोरोना के कारण पूरे 2 साल बाद खचाखच भरे हुए स्टेडियम में IPL का Final खेला गया. इस बार IPL Final में गुजरात टाइटन्स (Gujarat Titans) ने राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) को 7 विकेट से मात दी. राजस्थान रायल्स ने साल 2008 के बाद पहली बार IPL 2022 में इस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई थी. हालांकि बाद में इस टीम की उम्मीदों पर गुजरात टाइटंस ने पानी फेर दिया. राजस्थान की टीम इस मैच में एक फाइटिंग स्कोर तक बनाने में कामयाब नहीं हो पाई और गुजरात ने 11 गेंद शेष रहते ही आराम से मैच में जीत दर्ज कर ली. इस मैच में राजस्थान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया था और 20 ओवर में सिर्फ 130 रन बनाए.

अश्विन की खराब गेंदबाज़ी

राजस्थान की तरफ से ट्रेंट बोल्ट (Trent Bolt) और प्रसिद्ध कृष्णा (P. Krishna) ने अच्छी गेंदबाजी करके कुछ उम्मीद जरूर जगाई, लेकिन टीम के अन्य गेंदबाज ज्यादा प्रभावशाली नहीं रहे. टीम के सीनियर स्पिनर आर अश्विन ने तो काफी खराब गेंदबाजी की और महज 3 ओवर में 32 रन लुटा डाले और उन्हें एक भी विकेट नहीं मिला. आर अश्विन की इस खराब गेंदबाजी पर टीम इंडिया के पूर्व ओपनर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने अपनी राय दी है. सहवाग इतने जरूरी मैच में इस तरह की गेंदबाज़ी करने के कारण अश्विन से काफी खफ़ा हैं. सहवाग ने कहा कि आर अश्विन की आफ स्पिन गेंदबाजी बल्लेबाजों को परेशान कर रही थी और उन्हें वही फेंकना चाहिए था, लेकिन इसके बजाए उन्होंने कैरम गेंदें फेंकी.

Ashwin की मानसिकता पर सवाल

सहवाग ने आगे कहा कि पहली पारी के बाद पिच पर रफ भी बन गया था अगर अश्विन वहां गेंद डालते तो वह शुभमन गिल (Shubhan Gill) को परेशान कर सकता था। हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) को भी वह ऐसे ही आउट करने की कोशिश कर सकते थे, लेकिन अश्विन की मानसिकता अलग है और वो अपनी वैरिएशंस के साथ विकेट लेने की कोशिश करते हैं। आपको बता दें कि आर अश्विन इस सीजन में सिर्फ गेंदबाज़ ही नही बल्कि एक बल्लेबाज़ के तौर पर भी उतरे थे. इस सीजन में पहली बार ऐसा हुआ जब वह 3 नंबर पर बल्लेबाजी करते आए. उन्होंने इस सीजन में खेले 17 मैचों में 7.91 की इकानामी रेट से 12 विकेट लिए थे। वहीं उन्होंने 27.29 की औसत और 141.48 की स्ट्राइक रेट से 191 रन भी बनाए. अश्विन की गेंदबाजी के बारे में टीम के कोच ने भी कहा था कि उन्हें गेंदबाजी मोर्चे पर और सुधार करने की जरूरत है.

वर्ल्ड कप पर नज़र

अब IPL के खत्म होने के बाद सभी खिलाड़ियों की नज़र वर्ल्ड कप पर टिकी हुई है. सभी खिलाड़ी अपने प्रदर्शन के दम पर उनका हिस्सा बनना चाहते हैं. देखना यही होगा कि क्या इस बार भारतीय टीम के सेलेक्ट अश्विन को वर्ल्ड कप के खेमे में जगह देते हैं या नही.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

अमेरिका-साउथ अफ्रीका के मैच के साथ ही शुरुआत होगी सुपर 8 के मुक़ाबलों की

पारखी आज से टी-20 वर्ल्ड कप-2024 में सुपर-8 के मुकाबलों का आगाज हो रहा है। इस राउंड का पहला मैच...

सुपर 8 के मैच से पहले अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज़ को मिलेगा अच्छा अभ्यास

पारखी अफगानिस्तान के खिलाफ मंगलवार को होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के आखिरी लीग मैच से पहले वेस्टइंडीज के...

श्रीलंका ने डेथ ओवरों की ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी से जीत लिया सबका दिल

पारखी श्रीलंका ने नीदरलैंड के खिलाफ़ मैच में शानदार प्रदर्शन किया और विश्व कप के अपने अंतिम मैच में 83...

गनीमत है कि फ्लोरिडा में एक मैच का रिज़ल्ट आ गया

पारखी नासा काउंटी की पिच से लेकर फ्लोरिडा के मैदान की दुर्दशा तक टी 20 वर्ल्ड कप में जैसा...