रणजी ट्रॉफीः रनों की हुई बारिश, बनी चार डबल सेंचुरी, पुजारा बिना खाता खोले आउट

Date:

Share post:

शनिवार के दिन रणजी में रनों की बारिश हुई। कुछ बल्लेबाजों ने खूब रन बटोरे जबकि कुछ बड़े नाम सस्ते में निपट गए। कुल चार डबल सेंचुरी लगी। शुरुआत करते हैं उत्तर प्रदेश और असम के मैच से-

उत्तर प्रदेश ने असम के खिलाफ पहली पारी में 548 रन बनाकर पारी घोषित की। सलामी बल्लेबाज आर्यन जुयाल 201 और मिडिल आर्डर बल्लेबाज करन शर्मा ने 208 रनों की पारी खेली। दोनों ही बल्लबाजों ने मिलकर तीसरे विकेट के लिए 298 रनों की साझेदारी की और उप्र को एक मजबूत स्कोर की ओर ले गए। इन दोनों के अलावा कप्तान नीतीश राणा 10 रन ही बना सके, वहीं आइपीएल नीलामी से चर्चा में आए समीर रिज़वी भी मामूली 14 रन पर आउट हो गए। दिन का खेल खत्म होने तक असम ने पारी की ठोस शुरुआत कर ली है। सलामी बल्लेबाज परवेज मुशरर्फ 53, और राहुल हजारिका 51 रन बनाकर टिके हुए हैं। अभी भी असम 432 रन पीछे है।

सौराष्ट्र और महाराष्ट्र के बीच मुकाबला एक रोमांचक मोड़ में पहुंच चुका है। मैच जीतने के लिए महाराष्ट्र को जहां 104 रन चाहिए वहीं सौराष्ट्र को पांच विकेट। इससे पहले सौराष्ट्र की दूसरी पारी 164 रनों पर ढ़ेर हो गई। अनुभवी चेतेश्वर पुजारा दूसरी पारी में खाता भी नहीं खोल पाए। पहली पारी में भी वह मात्र तीन रन ही बना पाए थे। महाराष्ट्र के लेफ्ट ऑर्म स्पिनर हितेश वालुंज ने दूसरी पारी में आठ विकेट हासिल कर सौराष्ट्र की बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी। पहली पारी में भी इस स्पिनर ने छह विकेट चटकाए थे।

पंजाब के अनमोलप्रीत सिंह और प्रभसिमरन सिंह ने चंडीगढ़ के गेंदबाजों की खूब धुनाई की है। अनमोलप्रीत सिंह 205 रन और प्रभसिमरन सिंह 171 रन बनाकर अभी भी क्रीज पर डटे हुए हैं। कल मैच का तीसरा दिन है और पंजाब तेजी से कुछ और रन जोड़कर चंडीगढ़ को जल्द समेटने की कोशिश करेगा।

मुंबई और बंगाल के बीच खेले जा रहे मैच में फिलहाल मुंबई बहुत आगे हो चुका है। मुंबई के 412 के जवाब में बंगाल की पहली पारी 199 पर ही सिमट गई। बंगाल की तरफ से अनुस्तुप मजुमदार की सेंचुरी (108) को छोड़कर कोई और बल्लेबाज खास छाप नहीं छोड़ पाया। अनुस्तुप के अलावा मनोज तिवारी ने 36 रनों का योगदान दिया। शिवम दुबे ने पहले बल्ले और फिर गेंद से भी चमके। इस आलराउंडर ने बंगाल के दो बल्लेबाजों को वापस पवेलियन भेजा।

दिल्ली का रणजी में साधारण प्रदर्शन जारी है। दिल्ली के गेंदबाज एक बार फिर बेअसर रहे। बड़ौदा ने पहली पारी में 400 रन बना लिए है। इस दौरान ईशांत शर्मा जैसे सितारों से सजी दिल्ली की गेंदबाजी 138 ओवर में मात्र पांच विकेट ही चटका पाई। बड़ौदा के दाएं हाथ के बल्लेबाज ज्योत्सनिल सिंह ने शानदार डबल सेंचुरी जड़ी और अभी भी वह 215 रन बनाकर खेल रहे है। दिल्ली की तरफ अनुभवी ईशांत शर्मा ने दो विकेट हासिल किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

गौतम गम्भीर ने कहा – खिलाड़ियों को खेलने चाहिए तीनों फॉर्मेंट

दक्ष अरोड़ा गौतम गंभीर अपने कार्यकाल में कुछ अहम फैसले लेना चाहते हैं। सबसे पहले उन्होंने भारतीय क्रिकेटरों से...

और अब इंडिया Vs पाकिस्तान….इंडिया चैम्पियंस ने सेमीफाइनल में लिया ऑस्ट्रेलिया चैम्पियंस से हार का बदला

नितेश दूबे इंडिया चैम्पियंस ने ऑस्ट्रेलिया चैम्पियंस को 86 रन से हराकर न सिर्फ लीग मुक़ाबले में अपनी हार...

रिंकू सिंह ने रचा इतिहास, तोड़ा रवींद्र जडेजा का रिकॉर्ड

भारतीय क्रिकेट में एक नया इतिहास रचते हुए रिंकू सिंह ने अपने टी20 करियर में एक अनोखा कारनामा...

PAK चैम्पियंस की टीम WI चैम्पियंस पर एक और जीत के साथ फाइनल में

नितेश दूबे cवेस्ट इंडीज चैम्पियंस ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला किया जिसके बाद पाकिस्तान चैम्पियंस...