उस रात पाक टीम ने नस्ली वाडिया के हाथ को चूमकर डिनर किया …. हैरिस राउफ ने की थी इंडियन नेट्स पर बॉलिंग

Date:

Share post:

यादें – भारत Vs पाकिस्तान

2007 में पाकिस्तान की टीम भारत के दौरे पर आई थी। बीसीसीआई के तत्कालीन
अध्यक्ष शरद पवार ने दोनों टीमों के लिए डिनर होस्ट किया। गेस्ट लिस्ट
में पाकिस्तान के फादर ऑफ नेशन मोहम्मद अली जिन्ना के नाती नस्ली वाडिया
भी थे। उस रात नस्ली वाडिया को आने में थोड़ा वक्त लग गया लेकिन जब तक वह
नहीं आए, पाकिस्तानी टीम ने खाना नहीं खाया। नस्ली वाडिया के आते ही पूरी
पाकिस्तानी टीम ने उनके हाथ पर किस किया और फिर उनके साथ खाना खाने का
लुत्फ उठाया। नस्ली वाडिया के पुत्र नैस वाडिया आगे चलकर पंजाब किंग्स
टीम के को-ओनर के रूप में जाने गए।

मुशर्रफ के डिनर में खूब हंसी-मज़ाक

इसी तरह टीम इंडिया के पाकिस्तान दौरे पर परवेज मुशर्रफ ने दोनों टीमों
के सम्मान में डिनर का आयोजन किया। उन्होने काफी वक्त दोनों टीमों के
खिलाड़ियों के साथ गुजारा। बीसीसीआई से जुड़े एक प्रशासक रत्नाकर शेट्टी
ने अपनी किताब के एक चैप्टर – माई ईयर्स इन बीसीसीआई में इस घटना का
उल्लेख किया है। उन्होंने लिखा है कि इस दौरान दोनों टीमों के खिलाड़ियों
की तरफ से काफी जोक्स सुनाए गए। माहौल को दोस्ताना बदलने में देर नहीं
लगी और उस खुशनुमा माहौल को आज भी खूब याद किया जाता है। 2005-06 के
लाहौर टेस्ट में धोनी की 72 रनों की शानदार पारी से टीम इंडिया विजयी रही
थी। मैच प्रेसेंटेशन पर परवेज मुशर्रफ ने धोनी को सलाह देते हुए कहा था
कि आप इस हेयरकट में बहुत अच्छे लगते हैं और बाल मत कटवाना।

मुफ्त की शालें

हरभजन सिंह ने कपिल शर्मा शो में एक किस्सा सुनाया कि लाहौर में उन्होंने
अपनी मां और बहनों के लिए कई शॉलें खरीदीं मगर उनसे किसी भी दुकानदार ने
पैसे नहीं लिए। इसी शो में शोएब अख्तर ने कहा कि 2004 और 2006 में टीम
इंडिया पाकिस्तान आई तब सड़कों पर दोनों मुल्कों के एक साथ झंडे देखने को
मिले थे।

इंडियन नेट्स में हैरिस राउफ की गेंदबाज़ी

 इसी तरह हैरिस राउफ का किस्सा भी मज़ेदार है। वह ऑस्ट्रेलिया में टीम
इंडिया के नेट्स पर गेंदबाज़ी करते देखे गए। उस समय तक उन्हें पाकिस्तान
टीम में जगह नहीं मिली थी। नेट्स पर उन्होंने केएल राहुल को गेंदबाज़ी
की। उनकी अच्छी खासी गति को देखने के बाद हार्दिक पांड्या ने उनकी पीठ
थपथपाते हुए कहा था कि एक दिन तुम पाकिस्तान के लिए ज़रूर खेलोगे। नेट
सैशन के बाद हैरिस राउफ ने विराट कोहली के साथ एक फोटो भी खिंचवाई।

अकरम का क्रेज़

पहले सचिन तेंडुलकर और आज विराट कोहली की पाकिस्तान में सबसे ज़्यादा
फैन-फालोइंग है जबकि भारत में एकेडमियों में प्रैक्टिस कर रहे ज़्यादातर
बाएं हाथ के युवा वसीम अकरम जैसा बनना चाहते हैं। इमरान खान का भारत में
खासकर टिन-एज लड़कियों में ज़बर्दस्त क्रेज़ था।

भारत-पाकिस्तान का संयुक्त खाता

भारत और पाकिस्तान दुनिया के पहले ऐसे मुल्क हैं जो पहली बार वर्ल्ड कप
क्रिकेट को इंग्लैंड से बाहर लाने में सफल रहे। दोनों की संयुक्त मेजबानी
में 1987 के रिलायंस कप का आयोजन किया गया और छह साल बाद 1996 के वर्ल्ड
कप में भारत-पाकिस्तान और श्रीलंका ने संयुक्त मेजबानी की और पिलकॉम नाम
से एक संयुक्त खाता बनाया गया। उस वक्त कोई सोच भी नहीं सकता था कि
क्रिकेट से हटकर दोनों मुल्क ऐसे किसी कदम पर मिलकर काम कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

धर्मशाला टेस्ट के लिए जसप्रीत बुमराह की टीम इंडिया में वापसी

आयुष राज बीसीसीआई ने सात मार्च से शुरू होने वाले इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के अंतिम टेस्ट के...

वेलिंगटन में पहले टेस्ट के पहले दिन कैमरून ग्रीन ने जड़ी सेंचुरी

आयुष राज वेलिंगटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन कैमरून ग्रीन ने 155 गेंदों का...

न्यूज़ीलैंड ने पहले ही दिन चटका लिए ऑस्ट्रेलिया के नौ विकेट

~आशीष मिश्रा वेलिंगटन में खेले जा रहे न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट मैच का पहला दिन मेहमान...

धर्मशाला में यशस्वी विराट और गावसकर के रिकॉर्डों को छोड़ सकते हैं पीछे

यशस्वी जायसवाल छोटी उम्र का बड़ा खिलाड़ी बनने की ओर अग्रसर हैं। वह रांची में विराट के एक...