भारत के गोल्डन बॉय के गोल्डन इरादे, कहा – अब पुरानी लय में लौट रहा हूं  

Date:

Share post:

~दीपक अग्रहरी

नीरज चोपड़ा….बस नाम ही काफी है। इस एथलीट ने जो काम ओलिम्पिक में किया था, वही काम पिछले दिनों स्विटज़रलैंड के शहर लुसान में डायमंड लीग में भी किया। स्वदेश लौटने पर उन्होंने कहा कि मैं दिखने में मोटा लग रहा था?̏̏̏ ” नीरज चोपड़ा ने मजाकिया अंदाज में एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में भारतीय रिपोर्टरों से अपने डीलडौल पर यह सवाल पूछा। पिछले शुक्रवार को ही नीरज डायमंड लीग में अपनी इंजरी से तकरीबन एक महीने जूझने के बाद फील्ड पर लौटे थे, जहां उन्होंने 87.66 मीटर के थ्रो के साथ पहला स्थान हासिल किया।  

इंटरव्यू में आगे उन्होंने कहा,“ इंजरी की वजह से मैं पर्याप्त ट्रेनिंग नहीं कर रहा था लेकिन मेरी डाइट पहले जैसी थी जिसके कारण मैं थोड़ा मोटा दिख रहा हूं। मेरी रफ्तार पर मेरे वजन का कोई असर नहीं पड़ा है। इंजरी से उबरने के बाद आप धीरे-धीरे अपने पुरानी लय में लौटते हैं इसलिए मैं एक स्तर तक ही अपने आप को पुश कर रहा था।

भाला स्टार ने 2021 में टोक्यो में अगस्त की उस रात से पहले ही जीत को अपनी आदत बना लिया था, जब उन्होंने ऐतिहासिक जीत हासिल की थी। चोपड़ा ने टोक्यो ओलिम्पिक में एथलेटिक्स में अब तक का पहला गोल्ड देश को दिलाया था। नीरज भारत के ‘गोल्डन बॉय’ हैं। उनकी सफलताओं का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। ओलिम्पिक में गोल्ड जीतने के बाद उन्होंने 2022 की वर्ल्ड चैपियनशिप में इंजरी के बावजूद अपने सर्वश्रेष्ठ 88.13 मीटर थ्रो के साथ दूसरा स्थान हासिल किया।  साल 2023 की शुरूआत भी नीरज ने शानदार तरीके से की। उन्होंने दोहा डायमड़ लीग मे पहला स्थान हासिल किया। भारत का यह स्टार खिलाड़ी इस इवेंट की वर्ल्ड रैंकिंग में 16 प्वाइंट्स के साथ शीर्ष पर है।   चोपड़ा आधे खुश और आधे थके हुए थे क्योंकि उनके 90 मीटर के निशान को पार करने पर फिर से सवाल उठाए गए थे। ओलिंपिक पदक जीतने के बाद उन्होंने इसे अपने बड़े लक्ष्यों में से एक बताया था लेकिन इसके बेहद करीब पहुंचने के बावजूद अभी तक इसे हासिल नहीं कर पाए हैं। “मुझे लगता है कि यह समय की बात है,” उन्होंने कहा। “लेकिन मैं इसके बारे में सोचकर किसी प्रतियोगिता में नहीं उतरता क्योंकि इससे दबाव ही बढ़ेगा। मेरा मुख्य उद्देश्य जीतना है, चाहे वह 85 मीटर थ्रो हो या 89 मीटर थ्रो। मुझे अभी और खेलना है, वर्ल्ड चैंपियनशिप का गोल्ड जीतना अभी बाकी है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

भारत में लाल गेंद से महिला घरेलू क्रिकेट फिर से शुरू किया जाएगा

आयुष राज महिलाओं के लिए रेड बॉल क्रिकेट छह साल बाद भारत के घरेलू कैलेंडर में वापसी करेगा। बीसीसीआई ने...

पीएसएल के मैच से पहले कराची किंग्स के 13 खिलाड़ी पड़े थे एक साथ बीमार

आयुष राज पाकिस्तान सुपर लीग में 29 फरवरी को कराची किंग्स और क्वेटा ग्लेडिएटर्स के बीच मैच से पहले एक...

पहले टेस्ट का दूसरा दिन रहा ऑस्ट्रेलिया के नाम..कुल बढ़त हुई 217 रनों की

न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट का दूसरा दिन मेहमानों के नाम रहा। दिन का खेल खत्म...

धर्मशाला टेस्ट के लिए जसप्रीत बुमराह की टीम इंडिया में वापसी

आयुष राज बीसीसीआई ने सात मार्च से शुरू होने वाले इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के अंतिम टेस्ट के...