खतरे में रोहित शर्मा की बादशाहत… केएल राहुल की साख भी दांव पर… क्या टीम इंडिया बचा पाएगी नंबर-1 का ताज

Date:

Share post:

– स्पोर्ट्स डेस्क 3rd June :

IPL-2022 खत्म होने के बाद भारत में अब इंटरनेशल क्रिकेट अपनी पटरी लौट रहा है. इसी कड़ी में टीम इंडिया साउथ अफ्रीका के खिलाफ 9 जून से टी20 सीरीज खेलनी जा रही है. सीरीज के लिए जहां रोहित शर्मा, विराट कोहली जैसे सीनियर्स प्लेयर्स को इस टी20 सीरीज के लिए आराम दिया गया है, वहीं केएल राहुल को कप्तानी की बागडोर सौंपी गई है.


के .एल को है अपनी पहली जीत का इंतजार


हालांकि केएल राहुल का कप्तानी में रिकॉर्ड काफी डरावना है. राहुल ने साउथ अफ्रीका दौरे पर एक टेस्ट और तीन वनडे इंटरनेशनल मैचों में कप्तानी की थी, जहां सभी मैचों में टीम इंडिया को हार मिली. मतलब केएल राहुल की कप्तानी में टीम इंडिया का रिकॉर्ड 0-4 है. इसके बावजूद चयनकर्ताओं ने केएल राहुल को बतौर कप्तान खुद को साबित करने का एक और मौका दिया है.

राहुल हुए फेल तो बुमराह-पंत मौके की तलाश में

इसमें कोई दो राय नहीं है कि केएल राहुल के पास आईपीएल की कप्तानी का लंबा अनुभव है. वह लखनऊ के अलावा आईपीएल में पंजाब किंग्स की भी कप्तानी कर चुके हैं, जहां टीम का प्रदर्शन काफी खराब रहा था. बतौर कप्तान केएल राहुल आईपीएल में 50 फीसदी मुकाबले हारे हैं, जो कतई बढ़िया नहीं कहा जा सकता. अगर टी20 सीरीज में बतौर कप्तान केएल राहुल का प्रदर्शन खराब रहता है, तो शायद ही भविष्य में उन्हें टीम इंडिया की फुलटाइम कप्तानी का अवसर मिले. क्योंकि ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पंड्या और श्रेयस अय्यर जैसे प्लेयर्स कतार में मौजूद हैं.

स्लो बैटिंग पड़ ना जाए भारी!

टी20 सीरीज में केएल राहुल के कप्तानी की तो अग्निपरीक्षा होगी ही, साथ ही यह भी देखना होगा कि उनकी बल्लेबाजी करने का अंदाज किस प्रकार का रहता है. हाल ही में समाप्त हुए आईपीएल के 15वें सीजन में केएल राहुल ने लखनऊ सुपर जायंट्स की कप्तानी की थी, जहां टीम ने प्लेऑफ का सफर तय किया.केएल राहुल ने भी इस दौरान बल्ले से शानदार खेल दिखाते हुए 600 से ज्यादा रन बनाए थे, लेकिन स्लो बैटिंग को लेकर उनपर सवाल उठाए गए थे. टी20 सीरीज में राहुल के पास इन कमियों को सुधारने का मौका रहेगा.

टी20 में फिलहाल टॉप पर टीम इंडिया

टी20 में अभी टीम इंडिया जीत के रथ पर सवार है और वह लगातार 12 मैच जीत चुकी है. इस सफर में भारत ने अफगानिस्तान (1), नामीबिया(1), स्कॉटलैंड(1), न्यूजीलैंड(3), वेस्टइंडीज (3) और श्रीलंका (3) को मात दी है. यदि भारतीय टीम पहले टी20 मैच में साउथ अफ्रीका को हरा देती है तो वह लगातार टी20 मैच जीतने के मामले में रोमानिया और अफगानिस्तान को पछाड़ देगी. ऐसे में बतौर कप्तान केएल राहुल पर दिल्ली टी20 में टीम को जीत दिलाने का मनोवैज्ञानिक दबाव होगा.

कहीं छिन ना जाए बादशाहत!

भारतीय टीम अभी टी20 रैंकिंग (270 रेटिंग अंक) में टॉप पर है. दूसरे एवं तीसरे स्थान पर मौजूद इंग्लैंड एवं पाकिस्तान उससे ज्यादा पीछे नहीं है. ऐसे में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खराब खेल दिखाने पर भारतीय टीम की बादशाहत भी छिन सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

धर्मशाला टेस्ट के लिए जसप्रीत बुमराह की टीम इंडिया में वापसी

आयुष राज बीसीसीआई ने सात मार्च से शुरू होने वाले इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के अंतिम टेस्ट के...

वेलिंगटन में पहले टेस्ट के पहले दिन कैमरून ग्रीन ने जड़ी सेंचुरी

आयुष राज वेलिंगटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन कैमरून ग्रीन ने 155 गेंदों का...

न्यूज़ीलैंड ने पहले ही दिन चटका लिए ऑस्ट्रेलिया के नौ विकेट

~आशीष मिश्रा वेलिंगटन में खेले जा रहे न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट मैच का पहला दिन मेहमान...

धर्मशाला में यशस्वी विराट और गावसकर के रिकॉर्डों को छोड़ सकते हैं पीछे

यशस्वी जायसवाल छोटी उम्र का बड़ा खिलाड़ी बनने की ओर अग्रसर हैं। वह रांची में विराट के एक...